Astroscience

अटल बिहारी वाजपाई

  अटल बिहारी वाजपाई जी देश के महान नेताओं में से एक है जिनका जन्म 25 दिसम्बर 1924 को हुआ, इनका जन्म बुध की महा दशा (1924-1932) में हुआ जो दो ग्रहो के साथ धन भाव में मौजूद है इनकी प्रारंभिक शिक्षा साधारण थी ।


Celebrity Horoscope अटल बिहारी वाजपाई Kundli
  • नाम:- अटल बिहारी वाजपाई
  • जन्म की तारीख:- 25-12-1924
  • जन्म का समय:- 05:45 AM
  • जन्म का स्थान:- ग्वालियर (मध्यप्रदेश)
  • सूचना स्रोत:- इंटरनेट से
Celebrity Horoscope अटल बिहारी वाजपाई Kundli

अटल बिहारी वाजपाईका राशिफल :-

मंगल 1975-1982 - इस येाग कारक महादशा के दौरान इन जनता का खूब सहयोग मिला साथ ही राजनीति में इन्हे एक अलग मुकाम पर पहुंचा दिया । 1977 मे इन्होन भा.जा.पा. ज्वाइन किया , 1980 पडोसी देश पाक और चाइना से महत्वपूर्ण समझौते किये जो कि अभूतपूर्व कार्य था। इनकी वाक पटुता मंगल की देन है । राहु 1982-2000 - यह महादशा इनके जीवन का कारन्ट थी जिसने आसमान की बुलन्दी पर पहुंचा दिया l 1984 में पार्लियामेंट की सीट जीत चुके थे। इस महादशा के दौरान ही पाकिस्तान के खिलाप 1999 में “आपरेशन विजया’’ में सफल रहे साथ अब्दुल कलाम के साथ 19988 में द्वितीय न्यूक्लियर टेस्ट राहु की ही देन है। जो इनकी कुण्डली भाग्य स्थान में मौजूद है ने देश को विश्व विजय बना दिया । साथ ही 1984 के चुनाव मे बाजपेयी सफल रहे । 1996 में यह सिर्फ 13 दिन ही आफिस गये काम करने का यह कारंट इनको केवल राहु ने ही दिया । इसी महादशा के दौरान 1996 और 1998 से 2004 में मध्य देश के प्रधान मंत्री रहे। 1992 में पद्म विभुशण से सम्मानित किया गया । 1993 में डी.लिट. कानपुर से किया । इसी महादशा के दौरान 1994 भारत रत्न पुरूस्कार और लोक बाल गंगाधर तिलक आवर्ड दिया गया । इस महादशा के दौरान देश में भी राजनीतिक दौर काफी गरमाया रहा देश पर हमले हुये 1992 में बाबरी मस्जिद काण्ड हुआ क्यों कि देश के प्रधान मंत्री पद पर रहते हुये राहु ने यह सब फल घटित किये।


केतु (1932-1939) की महादशा मे इन्होने कानपुर से परा स्नातक की डिग्री राजनीति विज्ञान से की और कुण्डली में मौजूद लग्न का शुक्र होने के कारण ये अच्छे सलाहकार थे l हर तरह के प्रबंधन के गुण मौजूद थे, और बुद्ध आदित्य योग का धनभाव में बन रहा है। गुरू 2000-2016 - इस महादशा के दौरान इन्होने प्रधान मंत्री पद रहते हुये काफी अच्छे कार्य कीयें। नई योजनाए लागू की जिससे देश में सुधार हुआ एक गुरू की तरह कर्तव्य निष्ठा और देश सेवा भावना इनमें देखने को मिली इनमें अच्छे सलाहकार के गुण और अधिक जाग्रत हुयें राजनीतिक गुरू के साथ साथ देश के युवाओं के भी आदर्श बने 26 जुलाई 2012 में धन भाव के गुरू ने जो सूर्य के साथ है इनके आप्रेसन विजय के सम्मान मे कारगिल विजय दिवस घोषित किया । वर्तमान सरकार ने 2015 में इन्हे विशेष सम्मान से पुरूस्कृत किया । इसी गुरू की वजह से इनको गृहस्थ सुख की चाह नही थी और शनि ने भी जो कि गुरू पर दृष्टि है ने वैराग्य के गुण प्रदान किये । शनि 2016 से वर्तमान शनि में सूर्य का अन्तर होने से इनकी सेहत और विदेशी दौरे के योग बने साथ ही देश के लिए कुछ नई योजनाएं कुछ नये विचार कुछ नई तकनीक ये इजाद करेगे, साथ ही तकनीकी और आतंकवाद से निपटने के लिए इनकी सलाह कारगर रही ।

Like & Follow

हमारे विशेषज्ञों से बात करें

अच्छे परिणाम, सही संचार और दशकों का अभ्यास अब आपको सिर्फ एक ही मंच पर यहाँ मिलता है l आप कॉल करके हमारे विशेषज्ञों से अपने लिए अच्छे उपाय प्राप्त कर सकते है। आपकी हर समस्या का समाधान और उसके उपाय आप अब आसानी से प्राप्त कर सकते है।

Astroscience