Astroscience

महेंद्र सिंह धोनी

महेंद्र सिंह धोनी का जन्म सूर्य की महादशा मे हुआ जोकि उनके जन्म से लेकर 1985 तह रही है। सूर्य उनकी कुंडली में 10वें भाव में बुध के साथ बैठे हैं। यह सूर्य, बुध का योग इन्हें अच्छी सोच-समझ देता है और ऐसा व्यक्ति अपने दिमाग के ऊपर भरोसा रखने वाला  होता है। सूर्य, बुध के एक साथ होने से इनका मंगल भी अच्छा हो जाता है और वैसे भी मंगल इनकी कुंडली में 9वे भाव में बैठे हैं। 


Celebrity Horoscope महेंद्र सिंह धोनी  Kundli
  • नाम:- महेंद्र सिंह धोनी
  • जन्म की तारीख:- 07-07-1981
  • जन्म का समय:- 11:15
  • जन्म का स्थान:- रांची, झारखंड
  • सूचना स्रोत:- इंटरनेट से
Celebrity Horoscope महेंद्र सिंह धोनी  Kundli

महेंद्र सिंह धोनी का राशिफल

1985-1995 यह 10 साल इनकी कुंडली में चन्द्र की महादशा रही। चंद्र इनकी कुंडली में लग्न के अंदर गुरु और शनि के साथ बैठे हुये हैं। चंद्र के अंदर जब भी गुरु कि अंतर्दशा आई वो समय इनके लिए काफी हद तक सही रहा लेकिन जब चन्द्र की महादशा के अंदर शनि की अंतर्दशा आयी वो समय इनके लिए परेशानियाँ लेकर आया। इस दशा ने खासकर इनकी माता की सेहत को प्रभावित किया और इस समय में इनको आर्थिक रूप से भी दिक्कतें आयीं और यह समय इनकी पढ़ाई के लिए भी कुछ खास अच्छा नहीं रहा। बचपन में इनके साथ एक दिक्कत और रही होगी और वो होगी इनके पाँव पर बार-बार चोंट लगना। 1995-2002 में इनकी कुंडली में मंगल की दशा चली और वो समय इनके लिए खेलों में जाने के लिए बहुत सही समय था और इसी दशा के अंदर 1998 में धोनी जी की अंडर 19 की टीम के लिए चुना भी गया जिसके अंदर इन्होंने काफी अच्छा प्रदर्शन भी किया। यह समय इनके खेलों के लिए अच्छा जरूर था लेकिन यह समय इनके मेहनत करने का भी था क्योकि कुंडली मे न कुछ योग ऐसे भी हैं जिनके कारण इन्हें बार-बार निराशाएँ भी देखने को मिली।

जिसके कारण इनका झुकाव खेलों की तरफ बढ़ा और आगे जाकर यह एक अच्छे क्रिकेटर बने और इसी योग के कारण इन्हें अच्छे दोस्त भी मिले जिन्होने हमेशा इन्हें सपोर्ट किया। 1979 से लेकर 1985 तक इनकी कुंडली में सूर्य की दशा चली और इनका जन्म इसी दशा में 1981 में हुआ तो पहले के 4 साल इनके स्वस्थ्य को लेकर थोड़ी बहुत दिक्कतों का सामना करना पड़ा और इनके पिता की जॉब के बिलकुल अनुकूल था।

 

2002-2020 में इनकी कुंडली में राहू की दशा रहेगी और इस समय में यह स्वभाव से नेक, श्रेष्ठ स्वभाव और हर जगह सम्मान पाने वाले होंगे। इनके पिता के लिए समय का प्रभाव अच्छा रहेगा परंतु इनकी माता के लिए समय का प्रभाव अच्छा नहीं होगा। इनकी माता को स्वास्थ्य संबंधी दिक्कतें पेश आएंगी। यह अपने पिता को शुभ फल देने वाले होंगे। इसी दशा के अंदर इन्हें 2003 में पहचान मिली और वन-डे मैच में यह भारत टीम के लिए भी चुने गए यह दशा नाम के साथ-साथ निराशाएं भी लायी थी। इसी समय के अंदर धोनी को शुरुआत में नाम तो मिला इसके बाद के 3-4 साल इनके लिए कुछ खास अच्छे नहीं थे और इस समय में इन्हें कुछ असफलताओं का सामना भी करना पड़ा लेकिन इस समय के बाद जो समय इनका शुरू हुआ जब इनकी कुंडली में राहु के अंदर शनि की अंतर्दशा आई उस दशा ने इन्हें नाम के साथ-साथ शौरत भी दी और यह 2007 में कप्तान बने। यह अपना प्रत्येक काम गुप्त तरीके से करने वाले होते है तथा मौके पर फौरन लट्टू की तरह अपने ख्यालात को घुमा लेने वाले होते है। इस समय के अंदर थोड़ा इनके स्वभाव में भी फर्क देखने को मिलेगा जिसके कारण वह अपने ही लोगों को नीचा दिखाने की कोशिश करेंगे जिस कारण आपका उनके साथ मतभेद पैदा होगा।

Like & Follow

हमारे विशेषज्ञों से बात करें

अच्छे परिणाम, सही संचार और दशकों का अभ्यास अब आपको सिर्फ एक ही मंच पर यहाँ मिलता है l आप कॉल करके हमारे विशेषज्ञों से अपने लिए अच्छे उपाय प्राप्त कर सकते है। आपकी हर समस्या का समाधान और उसके उपाय आप अब आसानी से प्राप्त कर सकते है।

Astroscience
WhatsApp chatWhatsApp Us