Astroscience

शाहिद कपूर

शाहिद कपूर का जन्म 25 फरवरी 1981 दिल्ली में गुरु की महादशा के दौरान हुआ जोकि 20 नवम्बर 1972 से 88 तक चली । एक अभिनेता के रूप में अपने कैरियर की शुरुआत करने से पहले, शाहिद कई संगीत विडियो और विज्ञापनों में काम कर चुके थे, जिनमें पेप्सी का व्यावसायिक विज्ञापन शामिल है, उन्होंने कुछ कुछ होता है के बाद शाहरुख खान, काजोल और रानी मुखर्जी के साथ काम किया। 


Celebrity Horoscope शाहिद कपूर Kundli
  • नाम:- शाहिद कपूर
  • जन्म की तारीख:- 25-02-1981
  • जन्म का समय:- 12:00
  • जन्म का स्थान:- Delhi
  • सूचना स्रोत:- Internet
Celebrity Horoscope शाहिद कपूर Kundli

शाहिद कपूरका राशिफल :-


उन्होंने कला के प्रदर्शन के लिए शामक डावर संस्थान में जाने का निश्चय किया, जहाँ बाद में उन्हें सुभाष घई की फ़िल्म ताल में पृष्ठभूमि डाँसर के रूप में देखा गया, यह डाँस उन्होंने अभिनेत्री ऐश्वर्या राय के साथ, गाने कहीं आग लगे लग जावे में किया। शाहिद कपूर अपने पिता पंकज कपूर जोकि खुद एक अभिनेता रहे है और माता नीलिमा आजिम वह भी एक अच्छी अभिनेत्री और डांसर रही है। शाहिद कपूर को बचपन से ही डांस का शौक रहा है। यह सभी गुण शाहिद को अपने माँ बाप के कारण मिले और गुरु की दशा ने सीखने के कार्यों में उन्हे लीन कर दिया। जब शाहिद 3 साल के थे तब उनके ऊपर शनि की दशा का कहर आया और उस दौरान शनि पांचवे घर में गुरु के साथ होने से पिता के सुखों को कमजोर कर दिया जिसके फलस्वरूप उनको अपने पिता से अलग होना पड़ा और उनके माता पिता का तलाक हो गया। शनि की दशा में ही शाहिद जब 10 साल के हुए तब काम के दौरान उनकी माँ उनको मुम्बई लेकर चली गयी। 

 

चंद्र के छटे घर में बैठ होने के कारण शाहिद कपूर अपनी माँ के साथ ही रहे लेकिन समय समय पर सेहत और खाँसी जैसी समस्याओं को झेलते रहे। रुपये - पैसों के हालात को अच्छा बनाते हुए चंद्र छटे घर में बैठ कर उनके मन को हुनर की तरफ ले गया जिसके चलते शाहिद कपूर एक डांस इंस्टिट्यूट में शामिल हो गये। यह दौर शनि का था मतलब अपने काम काज को बढ़ाने का इसी बीच उन्होंने बैकग्राउंड डांसर के रूप में भी काम किया। 

 

आज की दशा के अनुसार जोकि बुध की है बुध में शुक्र के चलते एक विवाह सम्पन हुआ और 2007 से 2024 तक इनको यह दशा काफी प्रभावित करती रहेगी। इस बीच इनको जीवन में कार्य क्षेत्र में उतार चढ़ाव जैसी समस्याओं के चलते बहन, बुआ, बेटियो के हालात और इनको खुद के स्वस्थ को प्रभावित करती रहेगी जिसमे इनको हरे रंग से परेज करना होगा। पेट व नाभि से नीचे की तकलीफें समय समय पर चलने की आशंकाएं है।

Like & Follow

हमारे विशेषज्ञों से बात करें

अच्छे परिणाम, सही संचार और दशकों का अभ्यास अब आपको सिर्फ एक ही मंच पर यहाँ मिलता है l आप कॉल करके हमारे विशेषज्ञों से अपने लिए अच्छे उपाय प्राप्त कर सकते है। आपकी हर समस्या का समाधान और उसके उपाय आप अब आसानी से प्राप्त कर सकते है।

Astroscience