Home / पन्ना रत्न पहनने के क्या फायदे होते हैं? (BENEFITS OF WEARING EMERALD GEMSTONE)
पन्ना रत्न पहनने के क्या फायदे होते हैं? (BENEFITS OF WEARING EMERALD GEMSTONE)
Divider

रत्न विज्ञान के अनुसार पन्ना बुध का रत्न होने के कारण इसका संबंध सीधा बुद्धि, बौद्धिक योग्यता, नियोजन और निर्णय क्षमता से होता हैं। बुध बुध से संबन्धित रोगों को दूर करने के लिए पन्ना रत्न पहनना चाहिए। बुध रत्न पन्ना धारक की मानसिक विचारधारा और बुद्धि का सहयोग देता हैं। त्वचा रोग, तंत्रिका तंत्र और वाणी से जुड़े रोगों के निवारण में पन्ना रत्न लाभकारी रहता हैं। भाषण योग्यता में वृद्धि होती हैं। मंदबुद्धि व्यक्तियों को इसे धारण करना चाहिए। भावनाओं और तनाव को दूर करने में यह रत्न उपयोगी सिद्ध होता हैं। तर्क शक्ति और ज्ञान अर्जित करने में इस रत्न की भूमिका अहम रहती हैं। रत्न शुभता से मस्तिष्क से जुड़े रोगों और विकारों में सुधार होता हैं। याददाश्त को बेहतर करने के लिए भी पन्ना रत्न पहना जा सकता हैं। जिन व्यक्तियों को सभा में अपनी बात कहने में असहजता का अनुभव होता हैं। उन सभी को यह रत्न धारण करना चाहिए। अपने अन्य गुणों के साथ साथ पन्ना रत्न चिकित्सा क्षेत्र में भी उपयोग में लाया जाता हैं। इसके अतिरिक्त यह रत्न हिसाब-किताब और बहीखातों के रख रखाव का कार्य करने वाले वर्ग के लिए भी शुभ रत्न साबित होता हैं। बुध रत्न अपने धारक की गणितज्ञ योग्यता में सुधार करता हैं। जीवन में दु:खों से राहत पाने और अशुभ घट्नाओं को कम करने के लिए पन्ना रत्न पहनना चाहिए।

इसके साथ-साथ ज्योतिष का अमूल्य रत्न पन्ना ऐसे विद्यार्थियों को भी धारण करना चाहिए जिनका मन पढ़ाई में नहीं लगता हैं। जो पढ़ते तो हैं परन्तु अधिक देर तक याद नहीं रख पाते हैं। यह माना जाता हैं कि पन्ना रत्न को शुद्ध जल में कुछ देर के डूबोकर रखने और फिर उस जल के छींटें आंखों पर मारने से नेत्र रोगों में आराम मिलता हैं। सर्प के काटने के भय से पीडि़त व्यक्तियों को पन्ना रत्न धारण करने पर इस भय से मुक्ति मिलती हैं। गणना और जमा-घटा का कार्य अथवा इन विषयों में शिक्षा देने का कार्य करने वाले व्यक्तियों को भी पन्ना रत्न पहनना चाहिए। नवम में बुध की राशि होने पर यह भाग्य रत्न बनता हैं इस स्थिति में इस रत्न को धारण कर भाग्योदय किया जा सकता हैं। भाग्य का बली होना धन आगमन का सूचक होता हैं। यदि जन्म कुंडली में बुध 6, 8 और 12वें भाव का स्वामी हों तो पन्ना रत्न धारण नहीं करना चाहिए। बुध शुभ स्थान का स्वामी होकर अगर लाभ भाव में बैठा हो तो पन्ना पहनने लाभ होता है। मिथुन तथा कन्या राशि वालों के लिए पन्ना पहनना अत्यन्त शुभ रहता है।

प्राकृतिक लैब प्रमाणित पन्ना रत्न खरीदें 

 

 

यह भी पढ़ें - ज्योतिष गणना के अनुसार वर्ल्ड कप-2019 में भारत का प्रदर्शन कैसा रहेगा?

Follow Us

Gurudev GD Vashist

Divider

Gurudev GD Vashist is also the author of Lal Kitab Amrit Vashist Jyotish. He is prominent in the India electronic media, like, leading TV channels like India News, Divya TV, Sadhna TV, Disha TV.
Read More

WhatsApp
Phone